39.4 C
Jodhpur
Saturday, June 15, 2024

[google-translator]

Naach 16 Registration FormNaach 16 Registration FormNaach 16 Registration FormNaach 16 Registration Form

जेएनवीयू का 19वां दीक्षांत समारोह

राज्यपाल कलराज मिश्र ने युवाओं से अपनी प्रतिभाओं का उपयोग समाज एवं राष्ट्र के लिए समर्पित करने का आह्वान करते हुए कहा है कि अर्जित शिक्षा के माध्यम से लोक कल्याण में अधिक से अधिक भागीदारी के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वाह करें। राज्यपाल गुरुवार को जोधपुर में जय नारायण व्यास विश्वविद्यालय के 19वें दीक्षान्त समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। राज्यपाल एवं कुलाधिपति कलराज मिश्र ने दीक्षान्त समारोह का शुभारंभ सरस्वती प्रतिमा पर माल्यार्पण और दीप प्रज्वलन से किया। उन्होंने दो शोधार्थियों डॉ. मोहम्मद कमाल हुसैन और डॉ. तृप्ति खींची को डी लिट तथा डॉ. शिवसिंह राठौड़ को डी-एससी की उपाधि प्रदान की। कुलाधिपति ने विभिन्न संकायों में सन 2021 में सर्वोच्च अंक प्राप्त कर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों को स्वर्ण पदक, दानदाता पदक तथा उपाधियां प्रदान की। इनमे 78 विद्यार्थियों को स्वर्ण पदक तथा अन्य पदक प्रदान किए गए। कुलाधिपति ने विभिन्न संकायों में शोधार्थियों को पीएचडी की उपाधियां प्रदान की। राज्यपाल मिश्र ने उपाधियां एवं पदक प्राप्त सभी विद्यार्थियों को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए उज्ज्वल भविष्य की कामना की और कहा कि सच्ची शिक्षा के मर्म को आत्मसात करते हुए केवल अपने लिए नहीं, बल्कि सबके लिए कल्याण और समाज तथा राष्ट्र की सेवा की भावना से जीवन निर्वाह को धन्य करें। समारोह में राज्यपाल एवं कुलाधिपति ने संविधान की उद्देशिका एवम मूल कर्तव्यों का वाचन किया। उन्होंने संविधान को अपने आचरण एवं व्यवहार पर लाने का आह्वान सभी से करते हुए कहा कि इससे समाज एवं देश विकसित और सुदृढ़ होगा। सभी लोग इसे हृदयंगम करते हुए मूल अधिकारों के साथ कर्तव्यों को भी ध्यान में रखकर जीवन व्यवहार अपनाएं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित थे लेकिन विधानसभा सत्र की वजह से वे नहीं आ सके। उनके द्वारा प्रेषित शुभकामना संदेश का वाचन कुलपति ने किया। जय नारायण व्यास विश्व विद्यालय के कुलपति प्रो. के. एल. श्रीवास्तव ने कुलाधिपति एवम राज्यपाल तथा अतिथियों का पुष्प गुच्छ एवम शाल से स्वागत किया। कुलसचिव गोमती शर्मा ने आभार जताया। समारोह का आरंभ और समापन शैक्षणिक शोभायात्रा से हुआ। कुलगीत भी प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर विभिन्न संकायों के अधिष्ठातागण, निदेशकगण, सिण्डीकेट और सीनेट सदस्यगण, शिक्षकगण, अधिकारीगण, विद्यार्थी, अभिभावक एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

200,112FansLike
46,876FollowersFollow
40,188SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles